Latest Vacancy

खुशखबरी- अब 12वीं पास IIT में डायरेक्ट ले सकते हैं एडमिशन, JEE की नही जरूरत

Govtvacancy Desk
7 Aug 2022 11:21 AM GMT
खुशखबरी- अब 12वीं पास IIT में डायरेक्ट ले सकते हैं एडमिशन, JEE की नही जरूरत
x
JEE की जरूरत नहीं, 12वीं पास को डायरेक्ट मिलेगा IIT में एडमिशन, यहां करें अप्लाई

अब आईआईटी में बिना JEE के भी एडमिशन लिया जा सकता है. इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, मद्रास की ओर से डाटा साइंस में बीएससी प्रोग्राम ऑफर किया जा रहा है. यह कोर्स 4 साल का होगा. इसमें एडमिशन लेने के लिए JEE स्कोर की जरूरत नहीं पड़ेगी. IIT Madras ने आज यानी 01 अगस्त 2022 को इस कोर्स की घोषणा की है. बता दें कि, इस कोर्स को करने के साथ-साथ छात्रों को किसी कंपनी या रिसर्च इंस्टीट्यूट में 08 महीने के अप्रेंटिस और प्रोजेक्ट करने का मौका मिलेगा. ग्रेजुएशन लेवल पर ऑफर हुए इस कोर्स में 12वीं के बाद दाखिला ले सकते हैं. इसको लेकर वेबसाइट- onlinedegree.iitm.ac.in पर नोटिफिकेशन जारी की गई है.

आईआईटी मद्रास की ओर से ऑफर हुए इस कोर्स के लिए 13,000 से अधिक छात्र नामांकित हैं. इनमें सबसे अधिक छात्र तमिलनाडु से हैं, इसके बाद महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश के छात्र हैं. भारत के 111 शहरों में 116 परीक्षा केंद्रों में व्यक्तिगत परीक्षा आयोजित की जाती है. इसके अलावा UAE, बहरीन, कुवैत और श्रीलंका में भी परीक्षा केंद्र खोले गए हैं.

कैसे करें अप्लाई?

इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए छात्रों को IIT मद्रास की ऑफिशियल वेबसाइट- onlinedegree.iitm.ac.in पर जाकर ऑनलाइन अप्लाई करना होगा. सितंबर 2022 टर्म के लिए आवेदन प्रक्रिया 19 अगस्त 2022 तक जारी रहेगी. अधिक जानकारी के लिए ऑफिशियल वेबसाइट विजिट करें.

कौन ले सकता है एडमिशन?

IIT मद्रास की ओर से जारी नोटिफिकेशन के अनुसार, इस कोर्स में 12वीं कक्षा में पढ़ रहे छात्र भी आवेदन के पात्र हैं. बता दें कि, इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए जरूरी नहीं है कि, 12वीं में साइंस स्ट्रीम का छात्र हो. इसके लिए कोई आयु सीमा नहीं है. सिर्फ 10वीं में छात्रों का गणित और इंग्लिश विषय होनी चाहिए.

आईआईटी मद्रास के निदेशक प्रो वी कामकोटी ने बताया कि IIT Madras की ओर से यह कोर्स अच्छी तरह से डिजाइन किया गया है. बीएससी इन डेटा साइंस एंड एप्लीकेशन डिग्री की पेशकश करके इंस्टीट्यूट खुश है. इस कोर्स के माध्यम से छात्रों को प्रोजेक्ट पर काम करने के साथ-साथ रिसर्च का भी मौका मिलेगा. इस कोर्स के बाद डायरेक्ट प्लेसमेंट के भी ऑफर आएंगे. यह एक जॉब जेनेरेटिंग कोर्स साबित होने वाला है.

Next Story