Important News

weather Update: तपती गर्मी से मिलने वाली है राहत, अगले 48 घंटों में इन जिलों में होगी बरसात

Govtvacancy Desk
29 April 2022 11:37 AM GMT
weather Update: तपती गर्मी से मिलने वाली है राहत, अगले 48 घंटों में इन जिलों में होगी बरसात
x
Weather alert weather update Weather rain update haryana weather alert Haryana Weather

बिहार के अधिकांश जिले में लोग भीषण गर्मी से परेशान हैं. लेकिन जल्द ही उन्हें अब गर्मी से राहत मिलने वाली है. मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार अगले 48 घंटे में राज्य के कुछ हिस्सों में बारिश होने की संभावना है. बता दें कि गुरुवार को बीते कुछ दिनों की अपेक्षा राज्य के कुछ जिलों में तापमान में गिरावट देखी गई. वहीं, कई जिलों में मौसम में थोड़ी नमी देखी गई और लू की स्थिति भी कम रही. जबकि, बक्सर-नवादा जैसे जिलों में तापमान में कोई परिवर्तन नहीं दिखा.

बिहार का मौसम शुष्क बना रहा

मौसम विभाग की मानें तो गुरुवार को बिहार का मौसम शुष्क बना रहा. 44.7 डिग्री सेंटीग्रेड तापमान के साथ बक्सर सबसे गर्म जिला रहा. दक्षिण बिहार में लू का प्रकोप बना रहा. हालांकि, इसमें हल्की कमी परिलक्षित हो रही है, जैसे मंगलवार को जहां 19 शहरों का तापमान 40 डिग्री सेंटीग्रेड या उससे ऊपर दर्ज किया गया था. वहीं, बुधवार को यह संख्या घटकर 14 रह गई.

वहीं, पिछले 24 घंटों में 40 डिग्री सेंटीग्रेड से तापमान वाले शहरों में प्रमुख नवादा में 44 डिग्री सेंटीग्रेड, औरंगाबाद, गया और बांका में 44.5 डिग्री सेंटीग्रेड, जमुई में 43.4 डिग्री सेंटीग्रेड, पटना में 42.8 डिग्री सेंटीग्रेड, डेहरी और शेखपुरा में 43.2 डिग्री सेंटीग्रेड, पटना में 42.8 डिग्री सेंटीग्रेड, सिवान के जीरादेई में 42.6 डिग्री सेंटीग्रेड, नालंदा जिले के हरनौत में 41.8 डिग्री सेंटीग्रेड, छपरा में 41.6 डिग्री सेंटीग्रेड, बेगूसराय में 40.3 डिग्री सेंटीग्रेड और वैशाली में 40 डिग्री सेंटीग्रेड तापमान दर्ज किया गया.

अगले 48 घंटे में बारिश की संभावना

मौसमविदों के अनुसार शुक्रवार को लू की तीव्रता में कुछ गिरावट देखी जाएगी. जबकि शनिवार यानी 30 अप्रैल से राज्य के उत्तरी और पूर्वी क्षेत्रों में आकाश बादल छाए रहेंगे. कुछ स्थानों पर हल्की और मध्यम वर्षा व वज्रपात की पूरी संभावना जताई गई है. वहीं, रविवार एक मई को प्रदेश के दक्षिण-पश्चिम के कुछ जिलों को छोड़कर पूरे प्रदेश में वर्षा व धूल भरी आंधी की घटनाएं होने की संभावना है, जिस कारण अधिकतम तापमान में गिरावट दर्ज होगी.

Next Story