Important News

हरियाणा में परिवार पहचान पत्र से जुड़ेगा प्रापर्टी का ब्‍यौरा, मिलेगा ये बड़ा फायदा

Govtvacancy Desk
25 March 2022 9:12 AM GMT
हरियाणा में परिवार पहचान पत्र से जुड़ेगा प्रापर्टी का ब्‍यौरा, मिलेगा ये बड़ा फायदा
x
Property details will be linked to family identity card in Haryana

हरियाणा सरकार ने कुछ समय पहले घोषणा की थी कि परिवार पहचान पत्र के साथ प्रापर्टी भी अटैच की जाएगी। शहरों में इस पर काम भी शुरू हो गया है। वहीं माना जा रहा है कि ग्रामीण क्षेत्रों में भी आने वाले समय में पर इसका काम शुरू होगा। इसके अलावा जमीनों को भी परिवार पहचान पत्र से जोड़ने की योजना है।

पिछले दिनों सरकार की तरफ से आदेश भी आए थे कि जमीन का रिकार्ड भी परिवार पहचान पत्र से जोड़ दिया जाएगा। नगर निकाय विभाग की तरफ से पत्र जारी कर सभी नगरपरिषद व नगरपालिका के अधिकारियों को आदेश दिया गया है कि शहर में जितनी भी प्रापर्टी है उसे परिवार पहचान पत्र से जोड़ा जाए।

फतेहाबाद नगरपरिषद ने इस पर काम शुरू कर दिया है। इसके लिए सक्षम युवा लगाए गए है। नगरपरिषद सुबह से लेकर दोपहर तक सक्षम युवा मोबाइल के माध्यम से इस डाटा को आनलाइन कर रहे है। जिनके नाम प्रापर्टी आइडी है उसे फोन करके परिवार पहचान पत्र पूछा जा रहा है। जो अपनी आइडी बता रहा है उसकी प्रापर्टी के साथ अटैच किया जा रहा है। जो लोग रह गए है उसे बाद में जोड़ा जाएगा।

पहले नगरपरिषद की तरफ से प्रापर्टी की एक यूनिक आइडी दी गई थी। जिससे प्रापर्टी से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी मिल जाती है। लेकिन अब परिवार पहचान पत्र से प्रापर्टी जुड़ने के पास फायदा ये होगा कि कोई भी व्यक्ति अपना परिवार पहचान पत्र डालकर प्रापर्टी से संबंधित जानकारी हासिल कर सकता है। वहीं नप कार्यालयों में भी चक्कर नहीं काटना पड़ेगा। कई बार अवैध कालोनी का भी डर रहता है। ऐसे में अगर कालोनी वैध है तभी परिवार पहचान पत्र के साथ उसकी प्रापर्टी अटैच होगी।

फतेहाबाद जिले के नगरपरिषद व नगरपालिका का जिक्र करे तो 85 हजार के करीब प्रापर्टी है। ऐसे में इस प्रापर्टी को परिवार पहचान पत्र के साथ जोड़ने में समय लगेगा। लेकिन इतना तय है कि आने वाले कुछ महीनों में यह काम भी पूरा हो जाएगा। जिले के सभी शहरों में इस समय प्रापर्टी से संबंधित सर्वे चल रहा है। याशी कंपनी द्वारा नोटिस भी दिया जा रहा है। ऐसे में जिनका प्रापर्टी में नाम आदि गलत है तो वह ठीक भी करवा सकता है। यहीं कारण है कि सर्वे के साथ अब इन प्रापर्टी को परिवार पहचान पत्र से भी जोड़ने का कार्य किया जा रहा है।

स्थानीय नगर निकाय विभाग की तरफ से प्रापर्टी टैक्स एक साथ भरने के ब्याज में छूट दे रखी है। यहीं कारण है कि अब प्रापर्टी टैक्स भरने के लिए लोगों की लाइनें लग रही है। नगरपरिषद की तरफ से पहले एक ही काउंटर लगाया गया था, लेकिन अब इसे बढ़ाकर दो क दिया गया है।

ऐसे में उम्मीद है कि इस छूट का फायदा अधिक से अधिक लोग उठा सकते है। फतेहाबाद शहरवासियों की तरफ 15 करोड़ रुपये का प्रापर्टी टैक्स बकाया पड़ा है। वहीं सरकारी भवनों की तरफ भी इतना ही प्रापर्टी टैक्स बकाया है। ऐसे में उम्मीद है कि इस छूट के बाद कुछ तो रिकवरी अवश्य होगी।

शहर में प्रापर्टी के साथ परिवार पहचान पत्र जोड़ा जा रहा है। इसके लिए सर्वे शुरू हो गया है। सक्षम युवा फोन करके यह काम कर रहे है। जो प्रापर्टी रह जाएगी वो डोर-टू-डोर जाकर सर्वे करेगी। वहीं लोगों से अपील है कि सरकार ने 31 मार्च तक प्रापर्टी टैक्स भरने के लिए जो छूट दी है उसका अवश्य फायदा उठाए। उसके बाद छूट मिलने की संभावना कम है।

Next Story