Important News

अगर लद्दाख जाने का मन हो तो जरुर देखे रंग बदलने वाली ये झील, इस वजह से भी है खास

GovtvacancyJobs
19 April 2022 3:35 PM GMT
अगर लद्दाख जाने का मन हो तो जरुर देखे रंग बदलने वाली ये झील, इस वजह से भी है खास
x


नेचुरल ब्यूटी का केंद्र माने जाने वाली लद्दाख Ladakh trip ) में कई ऐसी खूबसूरत डेस्टिनेशन मौजूद हैं, जहां आप फैमिली या दोस्तों के साथ क्वालिटी टाइम बिता सकते हैं.

चिलचिलाती गर्मी में इस ठंडे क्षेत्र की यात्रा करके आप काफी अच्छा फील कर सकते हैं. यहां मौजूद पैंगोंग झील एक बड़ा टूरिस्ट स्पॉट ( Pangong lake tourist spot ) है, जिसकी खूबसूरती मन को मोह लेने वाली है. इस जगह का बेहतरीन नजारा दिल को छू लेने वाला है, साथ ही यहां आप कई दूसरी चीजों को करके टूर को और भी खास बना सकते हैं. इसे पैंगोंग त्सो ( Pangong Tso facts ) के नाम से भी जाना जाता है और ये करीब 4500 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है. आंकड़ों के मुताबिक ये करीब 134 किलोमीटर लंबी झील है और लगभग 600 वर्ग किमी में फैली हुई है. इस लेक पर आप ठंड में स्लाइडिंग या स्केटिंग भी कर सकते हैं, क्योंकि ठंड के समय ये पूरी तरह जम जाती है.

इस लेख में हम कुछ ऐसी चीजों के बारे में बताएंगे, जो इस झील के टूर को और भी खास बना सकती है. साथ ही हम आपको इससे जुड़े इंटरेस्टिंग फैक्ट्स भी बताएंगे, जिन्हें जानने के बाद आप भी यहां ट्रैवल करने के लिए मजबूर हो जाएंगे.

पानी का रंग

इस लेक की खासियत है कि भले ही ये खारे पानी की हो, लेकिन इसका रंग बदलता रहता है. इसकी ये क्षमता इसे लोकप्रिय भी बनाती है. कहते हैं कि इसका नीला रंग कभी हरे या लाल रंग में बदल जाता है. इससे जुड़ा एक तथ्य ये भी है कि ये दुनिया की सबसे ऊंची झीलों में से एक झील है. रंग बदलने के अलावा कड़ाके की ठंड के दौरान खारे पानी की ये झील पूरी तरह जम जाती है.

विवाद

इस झील से जुड़ा हुआ एक तथ्य ये है कि ये भारत और चीन के बीच एक विवादित क्षेत्र में स्थित है. इसी कारण भारतीय टूरिस्ट को इसमें ज्यादा दूर जाने की मनाही है. सरकार ने कुछ किलोमीटर ही इसमें सैर की अनुमति दी हुई है. हालांकि, इसके लिए पहले लेह डीसी से परमिशन लेनी पड़ती है. कहते हैं कि झील का करीब 60 फीसदी हिस्सा चीन में स्थित है. झील का पानी खारा होने के कारण इसमें बहुत कम जीव देखने को मिलते हैं.

पैंगोंग झील के पास घूमने की जगहें

1. स्पांग्मिक विलेज: ये गांव पैंगोंग झील से करीब 7 किलोमीटर दूर है, जहां आप घूम कर यहां के लोगों को जान सकते हैं. यहां के लोग बकरियों के जरिए अपना पालन पोषण करते हैं. कड़ाके की ठंड के दौरान सेना इन लोगों को कई सुविधाएं मुहैया कराती है.

2. मठ: वैसे तो लद्दाख में आपको कई मठ मिल जाएंगे, लेकिन पैंगोंग झील के पास मौजूद हेमिस मठ यहां बहुत मशहूर है. यहां का शांत माहौल और सभ्यता आपको बहुत पसंद आएगी. इस जगह में आपको एक लाइब्रेरी भी मिलेगी, जिसमें तिब्बती बुक्स का कलेक्शन मौजूद है.


Next Story