Important News

अगर आपके पास भी बिजली विभाग के नाम से कनेक्‍शन काटने का आया है मैसेज तो हो जाएँ सावधान, साइबर ठग हजारों लोगों का बैंक खाता कर चूके हैं खाली

Govtvacancy Desk
21 Aug 2022 8:09 AM GMT
अगर आपके पास भी बिजली विभाग के नाम से कनेक्‍शन काटने का आया है मैसेज तो हो जाएँ सावधान, साइबर ठग हजारों लोगों का बैंक खाता कर चूके हैं खाली
x
सावधान! बिजली कनेक्‍शन काटने के मैसेज भेज साइबर ठग उपभोक्‍ताओं के बैंक खाते कर रहे खाली

साइबर ठग लोगों को ठगने के लिए साइबर ठगी के नए-नए तरीके अपनाने लगे हैं। साइबर ठगी की घटनाएं दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही हैं, अब साइबर ठगों ने बिजली निगम के ग्राहकों को निशाना बनाना शुरू कर दिया है.

साइबर ठग यूजर्स को मोबाइल नंबर पर फर्जी मैसेज भेज रहे हैं।

मेसेज में लिखा है, "प्रिय ग्राहक, आपके बिल भुगतान में कुछ समस्या के कारण आज रात 9.30 बजे आपका बिजली कनेक्शन काट दिया जाएगा। तो कृपया हमारे ग्राहक अधिकारी से संपर्क करें, संदेश में दिए गए नंबर। ऐसे में बिजली निगम ने भी एडवाइजरी जारी की है।

विद्युत निगम का कहना है कि वह अपने ग्राहकों को ऐसा कोई संदेश नहीं भेजता है। इसलिए सभी यूजर्स सावधान रहें। नहीं तो ये साइबर ठग लोगों को ठगते हैं और पैसे वसूल करते हैं। इस मैसेज को देखने के बाद जब यूजर इन नंबरों पर कॉल करता है तो वह उसी समय पैसे काटना शुरू कर देता है। इस तरह की शिकायतें सबसे पहले सिरसा जिले में सामने आई थीं। अब बाड़ घेरे में आने लगी है। बिजली निगम को कुछ उपभोक्ताओं की शिकायतें मिली हैं। उसके बाद ही इस पर ध्यान दिया जाता है। उपभोक्ताओं को भी जागरूकता की जरूरत है।

इस तरह वे धोखा देते हैं

फर्जी मैसेज देखकर यूजर जब नंबरों पर कॉल करता है तो साइबर ठग बिजली निगम का कर्मचारी होने का दिखावा करता है। अपने ही शब्दों में कहें तो इससे पहले कि कोई यूजर किसी बहाने मोबाइल में प्ले स्टोर से Any Desk एप्लीकेशन डाउनलोड कर ले। उस एटीएम नंबर को जानता है जिससे बिल का भुगतान किया गया है। उसके बाद खाते से लेनदेन शुरू होता है।

साइबर ठग चुनिंदा फर्जी मैसेज भेजते हैं।

साइबर ठग यूजर्स को चुनते हैं। जिन उपभोक्ताओं के बिजली बिल अधिक हैं या वे डिजिटल रूप से भुगतान करते हैं। खाता लेनदेन अधिक हैं। ऐसे यूजर्स को फर्जी मैसेज भेजता है। वहीं से धोखाधड़ी शुरू होती है। अगर कोई यूजर इनके जाल में पड़ जाता है तो ये उन्हें अपना शिकार बना लेते हैं.

Next Story