Important News

7th pay commission: केंद्रीय कर्मियों को जल्द मिलने वाली है बड़ी खुशखबरी, कैबिनेट बैठक में डीए बढ़ोतरी पर फैसला संभव

GovtvacancyJobs
30 March 2022 7:32 AM GMT
7th pay commission:  केंद्रीय कर्मियों को जल्द मिलने वाली है बड़ी खुशखबरी, कैबिनेट बैठक में डीए बढ़ोतरी पर फैसला संभव
x
Decision on DA hike possible in cabinet meeting

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आज होने वाली कैबिनेट की बैठक में केंद्रीय कर्मचारियों को तोहफा मिलने की संभावना है। एक रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि बैठक के दौरान सरकार केंद्रीय कर्मियों के लिए महंगाई भत्ते में तीन फीसदी के इजाफे पर मुहर लगा सकती है। इसमें कहा गया है कि केंद्र के पास बढ़े हुए महंगाई भत्ते का लाभ कर्मचारियों को एक जनवरी 2022 से देने का प्रस्ताव है।



वेतन में होगी जोरदार बढ़ोतरी

इससे पहले आई रिपोर्टों में उम्मीद जताई जा रही थी कि केंद्र सरकार होली के मौके पर केंद्रीय कर्मचारियों को डीए में बढ़ोतरी कर तोहफा दे सकती है, लेकिन ऐसा नहीं हो सका। लेकिन अब संभावना है कि नए वित्त वर्ष की शुरुआत के साथ ही कर्मचारियों को तगड़ा फायदा होने वाला है। अगर डीए में बढ़ोतरी की जाती है तो जनवरी और फरवरी के साथ मार्च का डीए भी वेतन में जुड़कर आएगा। ऐसे में उन्हे काफी बढ़ी हुई सैलरी मिलेगी।

ऐसे तय होता है महंगाई भत्ता

बता दें कि डीए में बढ़ोतरी पर सरकार की घोषणा सातवें वेतन आयोग की सिफारिश पर आधारित होगी। महंगाई भत्ता कर्मचारियों के वेतन के आधार पर दिया जाता है। शहरी, अर्ध शहरी और ग्रामीण इलाकों में नौकरी करने वाले सरकारी कर्मचारियों के लिए महंगाई भत्ता अलग-अलग होता है। इसकी गणना मूल वेतन पर होती है।


पूर्व में आई रिपोर्टों पर गौर करें तो उनमें भी उम्मीद जताई गई थी कि होली से पहले सरकार डीए में बढ़ोतरी के संबंध में घोषणा करके कर्मचारियों को बड़ा तोहफा दे सकती है। इस संबंध में जारी एक रिपोर्ट के अनुसार, बढ़ा हुआ वेतन, जनवरी और फरवरी के बकाया के साथ कर्मचारियों को मार्च में दिया जाएगा।

कर्मचारियों की होगी बल्ले-बल्ले

अभी कुल महंगाई भत्ता 31 प्रतिशत है जो एलान के बाद बढ़कर 34 प्रतिशत हो सकता है। अगर मंहगाई भत्ता बढ़कर 34 फीसदी होता है तो वेतन में 20 हजार रुपये का इजाफा हो सकता है। सातवें केंद्रीय वेतन आयोग के तहत सरकारी कर्मचारियों के डीए का निर्धारण बेसिक वेतन के आधार पर किया जाता है। अक्तूबर में 3 प्रतिशत और जुलाई में 11 प्रतिशत की बढ़ोतरी के बाद मौजूदा डीए की दर 31 प्रतिशत तक पहुंची है।

वेतन और पेंशन का बड़ा हिस्सा

गौरतलब है कि महंगाई भत्ता कर्मचारी के वेतन और पेंशनभोगियों की पेंशन का एक बड़ा हिस्सा है। यह भत्ता केंद्र सरकार के कर्मचारियों को उनके वेतन पर मुद्रास्फीति के प्रभाव को ऑफसेट करने के लिए दिया जाता है। 7वें वेतन आयोग (7वें सीपीसी) के तहत सरकार साल में दो बार जनवरी और जुलाई में डीए में इंक्रीमेंट देती है। डीए सरकारी कर्मचारियों के स्थानों के आधार पर भी भिन्न होता है।

48 लाख कर्मचारियों को फायदा

रिपोर्ट के मुताबिक, अगर सरकार वेतन वृद्धि की घोषणा करती है, तो इससे पूरे भारत में लगभग 48 लाख केंद्र सरकार के कर्मचारियों और 65 लाख पेंशनभोगियों को लाभ होगा। पिछले साल सरकार ने केंद्र सरकार के कर्मचारियों के महंगाई भत्ते को 28 फीसदी से बढ़ाकर 31 फीसदी कर दिया था। कोविड-19 महामारी के बावजूद इन कर्मचारियों को डीए इंक्रीमेंट दिया गया। हालांकि इस संबंध में अभी सरकार की ओर से कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है।

Next Story