Govt Schemes

Rajasthan Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana के लिए रजिस्ट्रेशन की हिंदी में पूरी जानकारी

Govtvacancy Desk
9 Aug 2022 1:04 PM GMT
Rajasthan Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana के लिए रजिस्ट्रेशन की हिंदी में पूरी जानकारी
x
राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना - Rajasthan Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana,ऑनलाइन आवेदन

नमस्कार दोस्तों आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से राजस्थान सरकार दुवारा शरू की गयी योजना से जुड़ी जानकारी प्रदान करने आये है प्यारे दोस्तों ये तो हम सभी जानते है की राज्य सरकार दुवारा किसानो को आर्थिक सहायता प्रदान करने एवं किसानो को कृषि के प्रति प्रोत्साहन करने के लिए अनेक प्रकार की योजनाओ का संचालन किया जाता रहता है ताकि किसान इन योजनाओ का लाभ प्राप्त कर के अपना जीवन यापन खुशहलता से कर सके ऐसी की एक नई योजना राज्य की गहलोत सरकार दुवारा किसानो के लिए शुरू करने जा रही है जिसका नाम है राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना (Rajasthan Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana) इस योजना के माध्यम से राजस्थान सरकार किसानो को खेती की गतिविधियों के दौरान कोई हादसा होने पर आर्थिक सहायता प्रदान करेगी

अगर आप इस योजना का लाभ लेने की सोच रहे है है आपको हमारे इस आर्टिकल को पढ़ कर इस योजना से जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त होगी जेसे की -राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना क्या है ,योजना का लाभ केसे ले ,उदेश्य ,पात्रता ,ऑनलाइन आवेदन केसे करे ,आवेदन करते समय किन -किन दस्तावेजो की जरूरत पड़ेगी ,योजना का लाभ क्या है .आवेदन फॉर्म केसे डाऊनलोड करे ,आदि ,अत आप इस योजना से जुड़ी जानकारी जाने के लिए हमारे इस आर्टिकल को लास्ट तक पढ़े

राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना (Rajasthan Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana) की शुरुआत राज्य के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत दुवारा 24 फरवरी 2021 को वितीय वर्ष 2021-22 का बजट पेश करते समय की थी इस योजना के तहत अगर किसानो की कृषक गतिविधियों के दौरान मृत्यु हो जाती है या फिर उनको किसी आंशिक या स्थायी विकलांगता का सामना करना पड़ता है तो उन्हें इस स्थिति में 5000 से लेकर 2 लाख रूपये तक की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी राज्य की गहलोत सरकार दुवारा इस योजना के संचालन के लिए 2000 करोड़ का बजट पास किया है

योजना के अंतर्गत मिलने वाली सहायता राशि

स्थिति मिलने वाली राशी

अगर कोई किसान सिर पर चोट लगने के कारण कोमा में चला गया हो या रीड फ्रैक्चर हो जाएं 50 हजार रुपये

यदि किसान का एक्सीडेंटल फ्रैक्चर हो जाएं

5 हजार रुपये

किसान महिला या पुरुष की 1 उंगलियां कट जाने पर 5 हजार रुपये

किसान महिला या पुरुष की 2 उंगलियां कट जाने पर 10 हजार रुपये

किसान महिला या पुरुष की 3 उंगलियां कट जाने पर 15 हजार रुपये

किसान महिला या पुरुष की 4 उंगलियां कट जाने पर 20 हजार रुपये

अगर किसान का 1 अंग विकलांग हो जाएं (जैसे: एक हाथ, एक पैर, एक आंख या टखना यानि एंकल ) 25 हजार रुपये

किसान महिला या पुरुष के बालो की डी-स्कल्पिंग होने पर 40 हजार रुपये

यदि किसी किसान 2 अंगो में विकलांगता हो जाएं (जैसे: दोनों हाथ, दोनों पैर, दोनों आंखें, या एक हाथ और एक पैर) 50 हजार रुपये

अगर कोई किसान सिर पर चोट लगने के कारण कोमा में चला गया हो या रीड फ्रैक्चर हो जाएं 50 हजार रुपये

Krishak Sathi Yojana ऑनलाइन आवेदन

राज्य के इच्छुक किसान भाई इस योजना का लाभ लेने की सोच रहे है तो आपकों ऑनलाइन आवेदन करना होगा ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आपको इधर -उधर कार्यालयों के चक्कर काटने की जरूरत नही है आप अपने घर बेठे आसानी से इस योजना की आधिकरिक वेबसाइट पर जाकर अपने मोबाइल एवं कंप्यूटर के माध्यम से आवेदन कर सकते है इससे आपके पैसे एवं समय दोनों की बचत होगी

Highlights Of Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana

योजना का नाम राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना

शुरू की गयी मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत दुवारा

कब शुरू की गयी 24 फरवरी 2021 को वितीय वर्ष 2021-22 का बजट पेश करते समय

वर्तमान वर्ष 2022

विभाग कृषि विभाग

श्रेणी राज्य सरकारी योजना

उदेश्य किसानो की कृषक गतिविधियों के दोरान दुर्घटना होने पर आर्थिक सहायता प्रदान करना

लाभार्थी राजस्थान के सभी किसान

मिलने वाली सहायता राशी 5 हजार से 2 लाख रूपये तक

योजना का कुल बजट 2000 करोड़ रूपये

राज्य राजस्थान

आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन एवं ऑफलाइन

आधिकारिक वेबसाइट https://rajasthan.gov.in/

किसानो को किन परिस्थितियों में मिलेगी सहायता राशि

टूबवेल बनाते समाय या खेत में बिजली द्वारा करंट लगने की परिस्थिति में वित्तीय राशि दी जाएगी

यदि अपने अनाज की भरी बोरियो को ले जाते समय किसी प्रकार की दुर्घटना या हादसा हो जाएं

यदि खेतो में काम कर रहे किसान के ऊपर आसमान से बिजली गिर जाए और वह मर जाएं ऐसी स्थिति में वित्तीय राशि उनके परिवार को प्रदान की जाएगी

अगर किसान खेत में काम कर रहे हो और उन्हें सांप, बिच्छू ने काट लिया हो और उससे उनकी मृत्यु हो गयी हो

खेतो में सिंचाई करते वक़्त या कुवें खोदने से अगर मर जाते है तो उन्हें 200000 लाख तक की राशि दी जाएगी

कृषि यंत्रो और बड़ी बड़ी मशीन का उपयोग करते समय मौत हो जाएं

राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना का लाभ एवं विशेषताएं( Rajasthan Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana)

राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना (Rajasthan Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana) की शुरुआत राज्य के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत दुवारा 24 फरवरी 2021 को वितीय वर्ष 2021-22 का बजट पेश करते समय की थी

Rajasthan Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana के माध्यम से राजस्थान सरकार किसानो को खेती की गतिविधियों के दौरान कोई हादसा होने पर आर्थिक सहायता प्रदान करेगी

इस योजना के तहत अगर किसानो की कृषक गतिविधियों के दौरान मृत्यु हो जाती है या फिर उनको किसी आंशिक या स्थायी विकलांगता का सामना करना पड़ता है तो उन्हें इस स्थिति में 5000 से लेकर 2 लाख रूपये तक की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी

राज्य की गहलोत सरकार दुवारा इस योजना के संचालन के लिए 2000 करोड़ का बजट पास किया है

किसान को आवेदन फॉर्म को सही से भरकर सम्बंधित विभाग में जमा करना होगा

राजस्थान सीएम कृषक साथी योजना का आवेदन ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों मोड द्वारा किया जा सकता है

राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना से कृषि क्षेत्र भी विकसित हो पायेगा

यदि किसान की दुर्घटना या मृत्यु होती है तो 6 महीने के अंदर इसका आवेदन फॉर्म जमा हो जाना चाहिए, यदि आपके समय अनुसार फॉर्म जमा नहीं कराया तो आप इसका लाभ नहीं ले सकेंगे

इस योजना के माध्यम से किसान आत्मनिर्भर एवं सशक्त बनेगे

योजना के तहत मिलने वाली सहायता राशी लाभार्थी किसानो के बैंक अकाउंट में भेजी जाएगी

इस लिए किसानो का बैंक अकाउंट होना जरूरी है

राज्य के इच्छुक किसान भाई इस योजना का लाभ लेने की सोच रहे है तो आपकों ऑनलाइन आवेदन करना होगा

ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आपको इधर -उधर कार्यालयों के चक्कर काटने की जरूरत नही है आप अपने घर बेठे आसानी से इस योजना की आधिकरिक वेबसाइट पर जाकर अपने मोबाइल एवं कंप्यूटर के माध्यम से आवेदन कर सकते है

इससे आपके पैसे एवं समय दोनों की बचत होगी

कृषक साथी योजना के जरूरी दस्तावेजो की सूचि(Importants Documents)

ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आपको कुछ खास दस्तावेजो की आवश्यक होगी हम आपको आवेदन करने के लिए किन -किन दस्तावेजो की आपको आवश्यक होगी इसकी जानकारी निचे प्रदान कर रहे है

आधार कार्ड

सब डिविजनल मजिस्ट्रेट की केस स्वीकृति रिपोर्ट

स्थयी विकलांगता के मामले में मेडिकल बोर्ड/सिविल सर्जन का विकलांगता प्रमाण पत्र और विकलांगता की तस्वीर

क्षतिपूर्ति बॉन्ड

हेयर डिटेल रिपोर्ट

बीमा निर्देशक द्वारा पूछे गए अन्य प्रमाण

निर्धारित प्रपत्र में आवेदन

एफ आई आर एवं सपोर्ट पंचनामा पुलिस पूछताछ रिपोर्ट

मृत्यु की स्थिति में पोस्टमार्टम रिपोर्ट या मृत्यु प्रमाण पत्र

आयु का प्रमाण पत्र

पहचान पत्र

बैंक पासबुक

मोबाइल नम्बर

जन्म प्रमाण पत्र

मूल निवास प्रमाण पत्र

Application Form

जमीन के कागजात

मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना की पात्रता

अगर आप इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की सोच रहे है तो इसके लिए आपको इस की पात्रता की जानकारी होना जरूरी है तभी आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते है अत हम आपको इस योजना की सरकार ने क्या पात्रता अनिवार्य की है उसकी जानकारी आपको निचे बताने जा रहे है

आवेदन करने वाला किसान राजस्थान का मूल निवासी हो

आवेदक किसान हो

इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए स्थायी विकलांग व्यक्ति पंजीकृत किसान होना अनिवार्य है

यदि किसान की मृत्यु हो जाती है तो लाभ प्राप्त करने वाला व्यक्ति पंजीकृत किसान का बालक या बालिका या फिर पति या पत्नी होनी चाहिए

इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए मृत या स्थायी विकलांग व्यक्ति की आयु 5 से 70 वर्ष के बीच होनी चाहिए

इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए मृत्यु या स्थायी विकलांगता दुर्घटना के कारण होनी चाहिए

आत्महत्या या फिर प्राकृतिक मौत इस योजना के अंतर्गत शामिल नहीं है

आवेदक को दुर्घटना के 6 महीने के भीतर संबंधित जिला कृषि अधिकारी के कार्यालय में आवेदन करना होगा

बैंक अकाउंट होना जरूरी है जो आधार कार्ड से लिंक हो

आवेदन करने वाले के पास इस योजना के सभी दस्तावेजो का होना जरूरी है

योजना का लाभ और राज्यों के किसानो को नही मिलेगा

योजना का उदेश्य क्या है

राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना (Rajasthan Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana) का मुख्य उदेश्य राज्य के किसानो को आर्थिक सहायता प्रदान करना है दोस्तों ये तो हम सभी जानते है की आज भी हमारे देश में ऐसे नागरिक है जो कृषि पर ही आश्रित रहते है उनका घर कृषि से ही चलता है खेती बाड़ी कर के अपने परिवार का पालन पोषण करते है लेकिन कृषि कार्य करते समय समय कभी किसानो की मौते हो जाती है या उनके साथ हादसे जैसे विकलांगता आदि हो जाते है जिसके कारण पूरी जिंदगी उन्हें इसी बोझ के साथ जीना पड़ता है या उनके परिवार को और अधिक आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ता है इन सब समस्याओ को देखते हुए गहलोत सरकार ने इस Rajasthan Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana की शुरुआत की है इस योजना से किसानो को मजबूत बनने में मदद मिलेगी और किसी भी प्रकार की दुर्घटना होने पर वित्तीय सहायता राशि उन्हें या उनके परिवार को दी जाएगी

मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना आवेदन केसे करे केसे करे

अगर आप इस योजना का लाभ लेना चाहते है तो आपको आवेदन करना होगा तभी आपको इस योजना का लाभ मिल सकेगा हम आपको निचे अपने इस आर्टिकल के माध्यम से आवेदन करने की प्रक्रिया को समजा रहे है आप हमारे दुवारा बताई की जानकारी को फ़ॉलो कर के आसानी से आवेदन कर सकते है

सबसे पहले आपको अपने जिले के कृषि विभाग में जाना होगा

अब आपको अधिकारी से राजस्थान राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना आवेदन पत्र लेना होगा

अब आप को आवेदन पत्र में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे कि आपका नाम, मोबाइल नंबर, एड्रेस आदि ध्यानपूर्वक दर्ज करना होगा

उसके बाद आपको आवेदन पत्र से सभी महत्वपूर्ण दस्तावेज अटैच करने होंगे

अब आपको यह आवेदन पत्र कृषि विभाग में जमा करना होगा

इसके पश्चात आपके द्वारा जमा किए गए दस्तावेजों का सत्यापन किया जाएगा

सत्यापन के बाद लाभ की राशि किसान के खाते में पहुंचा दी जाएगी

Next Story